200+ Best Motivational Shayari in Hindi 2022

हैलो, स्वागतह है आपका hindimesh.in के एक और नए शायरी की पोस्ट में इस पोस्ट में मैं motivational shayari hindi में लिस्ट करने वाला हूँ तो अगर आप best motivational shayari की तलाश में हैं तो आप सही जगह आए हैं। तो चलिए शुरू करते हैं। 

तो अगर आप भी लोगों को motivate करते हैं और motivational शायरी ढूंढ रहे है ताकि आप बह कर सके तो आप बिल्कुल परेशान ना हों क्युकी यह आपको वो सभी शायरी मिलएगा जिसकी आप तलाश में हैं। 

Motivational Shayari in hindi
Best Motivational Shayari in Hindi

Best Motivational Shayari in Hindi

बिना संघर्ष कोई महान नही होता,
बिना कुछ किये जय जय कार नही होता,
जब तक नहीं पड़ती हथोड़े की चोट,
तब तक कोई पत्थर भी लोगों के लिए भगवान नही होता।


साहिल के सुकूँ से किसे इंकार है लेकिन,
तूफ़ान से लड़ने में मज़ा और ही कुछ है।


जो इस वक्त मुस्कुरा रहा है, कभी उसे दर्द ने पाला होगा।
और जो इस वक्त चल रहा, उसके पैर में ज़रूर छाला होगा।
बिना मेहनत के कोई भी चमक नही सकता,
जो दिया जल रहा है उसी से ही तो उजाला होगा।


कोशिश भी कर उमीद भी रख रास्ता भी चुन,
फिर इसके बाद थोड़ा सा मुक़द्दर तलाश कर।


मैं तुरंत नहीं लेकिन निश्चित तौर पर जीतूँगा


रो कर मुस्कुराने का मजा ही कुछ और है,
जिंदगी में कुछ खो कर पाने का मजा ही कुछ और है,
ज़िन्दगी में हार और जीत तो लगी ही रहती है,
लेकिन हार के जीतने का मजा ही कुछ और आता है।


बुलंद हो होंसला तो मुट्ठी में हर मुकाम है,
मुश्किले और मुसीबते तो ज़िंदगी में आम हैं,
ज़िंदा हो तो ताकत रखो बाज़ुओ में तैरने की,
क्योकि लहरो के साथ बहना तो लाशो का काम है।


समुंदर में उतर लेकिन उभरने की भी सोच
डूबने से पहले... गहराई का अंदाज़ा लगा।


संघर्ष में आदमी अकेला होता है,
सफलता में दुनिया उसके साथ होती है,
जब-जब जग किसी पर हँसा है,
तब-तब उसी ने इतिहास रचा है।


किसी को बे-सबब शोहरत नहीं मिलती है ऐ वाहिद
उन्हीं के नाम हैं दुनिया में जिनके काम अच्छे हैं।


यदि हार की कोई संभावना ना हो तो जीत का कोई अर्थ ही नहीं है


गम के अँधेरे में, दिल को बेक़रार कर।
सुबह जरुर होगी मेरे दोस्त, थोडा तो इंतज़ार कर।

दुःख – सुख की धुप छाँव से आगे निकल गए,
हम खवाहिशो के गावं से आगे निकल गए।


यदि जिंदगी में कभी बुरा वक्त नहीं आता तो अपनों में छुपे गैर और गैर में छुपे अपने का कभी पता नहीं चलता


नाकामयाब लोग दुनिया के डर से अपने फैसले बदल देते हैं और कामयाब लोग अपने फैसले से पूरी दुनिया बदल देते हैं


जिंदगी में रिस्क लेने से कभी डरो मत या तो जीत मिलेगी औ�� हार भी गए तो सीख मिलेगी


रास्तों में मुश्किलें आऐ,
तो हिम्मत और बढ़ती है
कोई अगर रास्ता रोके,
तो जुर्रत और बढ़ती है,
अगर बिकने पे आ जाओ,
तो घट जाते है दाम अक्सर,
ना बिकने का इरादा हो तो,
कीमत और बढ़ती है।


इन निगाहों में मन्ज़िले हैं,
सामने कठिन रास्ते हैं बहुत,
लेकिन मैं हर मुश्किल से उलझ गया,
और मैं सबसे आगे निकल गया।


Motivation Shayari

इन निगाहों में मन्ज़िले हैं,
सामने कठिन रास्ते हैं बहुत,
लेकिन मैं हर मुश्किल से उलझ गया,
और मैं सबसे आगे निकल गया।


जो चाहा वह मिल जाना सफलता है जो मिला है उसको चाहना प्रसन्नता है


सपने और लक्ष्य में एक ही अंतर है सपने के लिए बिना मेहनत की नींद चाहिए और लक्ष्य के लिए बिना नींद की मेहनत


फ़िक्र मत कर बन्दे कलम कुदरत के हाथ है,
लिखने वाले ने लिख दिया किस्मत तेरे साथ है,
फ़िक्र करता है क्यों, से होता है क्या,
रख भगवान पे भरोसा देख फिर होता है क्या।


Best Motivational Shayari

Motivational Shayari Images, Best Motivation Image

 मत बैठ आशियाँ में परों को समेट कर,
कर हौसला खुली फिजाओं में उड़ान का।


शमा परवाने को जलाना सिखाती है,
शाम सूरज को ढलना सिखाती है,
मुसाफिर को ठोकरों से होती तो हैं तकलीफें,
लेकिन ठोकरें ही एक मुसाफिर को चलना सिखाती हैं।


आज तेरे लिए वक्त का इशारा है,
देखता ये जहां सारा है,
फिर भी तुझे रास्तों की तलाश है,
आज फिर तुझे मंज़िलो ने पुकारा है।


निगाहों में मंजिल थी,
गिरे और गिर के सँभलते रहे।

हवाओं ने बहुत कोशिश की,
मगर चिराग आँधियों में भी जलते रहे।


लोग जिस हाल में मरने की दुआ करते हैं,
मैंने उस हाल में जीने की क़सम खाई है।


जो फकीरी मिजाज रखते हैं
वो ठोकरों में ताज रखते हैं,
जिनको कल की फ़िक्र नहीं
वो मुठ्ठी में आज रखते हैं।


अगर कुछ करना है तो भीड़ से हटकर चलो भीड़ साहस तो देती है मगर पहचान छीन लेती है


न हम-सफ़र न किसी हम-नशीं से निकलेगा,
हमारे पाँव का काँटा हमीं से निकलेगा।


चले चलिए कि चलना ही दलील-ए-कामरानी है,
जो थक कर बैठ जाते हैं वो मंज़िल पा नहीं सकते।


सबके लबो पर एक दिन तेरा ही नाम होगा,
हर कदम पे तेरे, दुनिया का सलाम होगा,
हर मुसीबत का सामना करना तू डट कर,
देखना समय एक दिन तेरा भी गुलाम होगा।


ये कह के दिल ने मेरे हौसले बढ़ाए हैं,
ग़मों की धूप के आगे ख़ुशी के साए हैं।


ग़ुलामी में न काम आती हैं शमशीरें न तदबीरें.
जो हो खुद पर यक़ीं... तो कट जाती हैं ज़ंजीरें।


जिंदगी में किसी को कसूरवार ना बनाओ अच्छे लोग खुशियां लाते हैं बुरे लोग तजुर्बा


पंख ही काफ़ी नहीं हैं आसमानों के लिए,
हौसला भी चाहिए ऊंची उड़ानो के लिए।


जिन्दा रहो जब तक, लोग कमियां ही निकालते हैं ,
मरने के बाद जाने कहाँ से इतनी अच्छाइयां ढूंढ लाते हैं।


जो गुज़र गया उसे याद मत करो,
किस्मत में जो लिखा है उसकी फ़रयाद मत करो,
किस्मत में जो है वो होकर रहेगा,
तुम कल के चक्कर में आज को बर्बाद न करो।


मुश्किलों में भाग जाना आसान होता है हर पहलू जिंदगी का इम्तिहान होता है डरने वाले को मिलता नहीं कुछ जिंदगी में लड़ने वालों के कदमों में जहान होता है


जिंदगी का हर पल लाजवाब हो न हो,
जिंदगी के हर सवाल का जवाब होना चाहिए,
फर्क नहीं पड़ता कि कितनी ही देर लगे,
इंसान जिंदगी में कामयाब होना चाहिए।


राह संघर्ष की जो चलता है वहीं संसार को बदलता है जिसने रातों में जंग जीती है सूर्य बनकर वही निकलता है


इंतजार किस पल का किये जाते हो यारों,
प्यासों के पास समंदर नही आने वाला,
लगी है प्यास तो चलो रेत निचोड़ी जाए,
अपने हिस्से में समंदर नहीं आने वाला।


अगर आपकी किस्मत लिख सकते हम,
तो हर खुशी आपके हिस्से में लिख देते हम,
जो मोड़ आपको आपकी मन्ज़िल दिलाये,
उस रुख को आपकी तरफ मोड़ देते हम।


एक जैसी दिखती थी माचिस की तिलिया, कुछ ने दिए जलाएं कुछ ने घर


बेहतर से बेहतर कि तलाश करो,
मिल जाये नदी तो समंदर कि तलाश करो,
टूट जाता है शीशा पत्थर कि चोट से,
टूट जाये पत्थर ऐसा शीशा तलाश करो।


परिंदा दाने की तरफ हमेशा उड़ के आता है,
परिंदे की तरफ़ उड़ कर कभी दाना नहीं आता।


शमा परवाने को जलाना सिखाती है,
शाम सूरज को ढलना सिखाती है,
मुसाफिर को ठोकरों से होती तो हैं तकलीफें,
लेकिन ठोकरें ही मुसाफिर को चलना सिखाती हैं।


आज तेरे लिए वक्त का इशारा है,
देखता ये जहां सारा है,
फिर भी तुझे रास्तों की तलाश है,
आज फिर तुझे मंज़िलो ने पुकारा है।


पेड़ के कटने का किस्सा ना होता अगर कुल्हाड़ी के नीचे लकड़ी का हिस्सा ना होता


लोग चुन लें जिसकी तहरीरें देने के लिए,
ज़िंदगी की वो किताब-ए-तर हो जाइए।


मुश्किलों में भाग जाना आसान होता है,
हर पहलू जिंदगी का इम्तिहान होता है।
डरने वाले को कुछ नहीं मिलता जिंदगी में,
और लड़ने वालो के कदमो में जहां होता है।


मैं अकेला ही चला था मंज़िल की ओर मगर,
लोग साथ आते गए और कारवाँ बनता गया।


Motivational Shayari Hindi

अपना ज़माना आप बनाते हैं अहल-ए-दिल,
हम वो नहीं कि जिन को ज़माना बना गया।


अगर तुम्हें कुछ करने की इच्छा हो तो दुनिया में कोई काम असंभव नहीं है


रो कर मुस्कुराने का मजा ही कुछ और है,
जिंदगी में कुछ खो कर पाने का मजा ही कुछ और है,
ज़िन्दगी में हार और जीत तो लगी ही रहती है,
लेकिन हार के जीतने का मजा ही कुछ और आता है।


तारों में अकेला चाँद जगमगाता है,
मुश्किलों में अकेला इंसान डगमगाता है,
काटों से घबराना मत मेरे यारो, क्योंकि
काटों में ही अकेला गुलाब मुस्कुराता है।


बात अगर मतलब की हो तो सब समझ जाते हैं, लेकिन बातों का मतलब समझना किसी-किसी को आता है


ये भी पढ़ें:-  Best Good Morning Shayari In Hindi

नज़र नज़र में उतरना कमाल होता है ,
नफ़स नफ़स में बिखरना कमाल होता है
बुलंदियों पे पहुंचना कोई कमाल नहीं,
बुलंदियों पे ठहरना कमाल होता है...।


लकीरें खींचते रहने से बन गई तस्वीर,
कोई भी काम हो, बे-कार थोड़ी होता है।


तुम यहाँ धरती पर लकीरें खींचते हो,
हम वहाँ अपने लिये नये आसमान ढूंढते हैं,
तुम बनाते जाते हो पिंजड़े पर पिंजड़ा,
हम अपने पंखों में नयी उड़ान ढूंढते हैं।


लोग हर मोड़ पर रुक – रुक के संभलते क्यों है
इतना डरते है तो फिर घर से निकलते क्यों है

मोड़ तो होता हैं जवानी का संभलने के लिये
और सब लोग यही आकर फिसलते क्यों हैं


शमा परवाने को जलाना सिखाती है,
शाम सूरज को ढलना सिखाती है,
मुसाफिर को ठोकरों से होती तो हैं तकलीफें,
लेकिन ठोकरें ही मुसाफिर को चलना सिखाती हैं।


मुश्किलों में भाग जाना आसान होता है,
हर पहलु जिंदगी का इम्तिहान होता है।

डरने वाले को कुछ नहीं मिलता जिंदगी में,
और लड़ने वालो के कदमो में जहां होता है।


जब तुम्हें कोई छोड़ जाए तो चले जाने दो, और अपनी जिंदगी में इतना मेहनत करो और इतना बड़ा बनो की अगली बार जब वह सामने आए तो तुम्हें देखने की उसकी औकात ना हो


दिल ना-उमीद तो नहीं नाकाम ही तो है,
लम्बी है ग़म की शाम मगर शाम ही तो है।


अमीर इतना बनो की कितनी भी कीमती चीज को जब चाहो तब खरीद सको और कीमती इतना बनो कि इस दुनिया का कोई अमीर से अमीर भी आपको खरीद ना सके


चाहिए ख़ुद पे यक़ीन-ए-कामिल,
हौसला किस का बढ़ाता है कोई।


डर मुझे भी लगा फासला देख कर,
पर मैं बढ़ता गया रास्ता देख कर,
खुद ब खुद मेरे नज़दीक आती गई,
मेरी मंज़िल मेरा हौंसला देख कर।


जिंदगी में कभी किसी अपने का साथ मत छोड़ना,
जिंदगी में कभी किसी का दिल मत तोड़ना,
बस जिंदगी तो उसे ही कहते हैं,
जो एक पल में सारा जहां जी लेते हैं।


जो अपनी जिंदगी में कुछ पाना चाहते हैं,
वो समंदर में भी पत्थरों के पुल बना लेते हैं।


मैं मौसम नही हूँ जो पल में बदल जाऊँ,
मैं इस जमीन से दूर कहीं और ही निकल जाऊँ,
मैं उस पुराने जमाने का सिक्का हूँ मुझे फेंक न देना,
हो सकता है बुरे दिनों में मैं ही चल जाऊँ।


लोगों को तीर की तरह चुभती है बातें मेरी शायद निशाना बहुत अच्छा है मेरा


ज़िन्दगी बहुत हसीन है,
कभी हंसाती है, तो कभी रुलाती है,
लेकिन जो ज़िन्दगी की भीड़ में खुश रहता है,
ज़िन्दगी उसी के आगे सिर झुकाती है।


काम करो ऐसा कि पहचान बन जाये,
हर कदम चलो ऐसे कि निशान बन जाये,
यह जिन्दगी तो सब काट लेते हैं,
जिन्दगी ऐसे जियो कि मिसाल बन जाये।


पत्थर नहीं हूं मुझ में भी नमी है, दर्द बयां नहीं करता बस इतनी सी कमी है


भँवर से लड़ो तुंद लहरों से उलझो,
कहाँ तक चलोगे किनारे किनारे।


आदमी बड़ा हो या छोटा कोई फर्क नहीं पड़ता उसकी कहानी बड़ा होना चाहिए


देखते हैं ये जिंदगी हमें कब तक भटकाएगी
किसी दिन तो कोशिशें हमारी भी रंग लाएंगी,
उस रोज हम आराम से बैठेंगे अपने घर में
और कामयाबी बहार दरवाजा खटखटाएगी।


सदा एक ही रुख़ नहीं नाव चलती,
चलो तुम उधर को हवा हो जिधर की।


इंसान कहता है अगर पैसा हो तो मैं कुछ करके दिखाऊ और पैसा कहता है कुछ करके दिखाओ तो मैं आऊ


साहिल पे पहुंचने से इनकार किसे है लेकिन,
तूफ़ानो से लड़ने का मज़ा ही कुछ और है,
कहते है, कि किस्मत खुदा लिखता है लेकिन,
उसे मिटा के खुद गढ़ने का मजा ही कुछ और है।


अपने हाथों की लकीरों को क्या देखते हो ?
किस्मत तो उनकी भी होती है, जिनके हाथ नहीं होते।


नज़र नज़र में उतरना कमाल होता है ,
नफ़स नफ़स में बिखरना कमाल होता है
बुलंदियों पे पहुंचना कोई कमाल नहीं,
बुलंदियों पे ठहरना कमाल होता है...।


वो छोटी-छोटी उड़ानों पे गुरूर नहीं करता
जो परिंदा अपने लिए आसमान ढूंढता है।


बदल जाओ वक्त के साथ या वक्त बदलना सीखो,
मजबूरियों को मत कोसो हर हाल में चलना सीखो।


छु ले आसमान, ज़मीन की तलाश मत कर।
मज़ा ले जिंदगी का, खुशियों की तलाश ना कर।
ग़मों से दूर होकर, तेरी तकदीर भी बदल जायेंगी।
मुस्कुराना सिख ले, उसकी वजह की तलाश ना कर।


जिसमे उबाल हो ऐसा खून चाहिये,
जीत के खातिर ऐसा जुनून चाहिए,
ये आसमान भी आएगा ज़मीन पर,
बस इरादों में ऐसी गूंज चाहिये।


सोच को बदलो, सितारे बदल जायेंगे।
नजर को बदलो, नज़ारे बदल जायेंगे।

कश्तियाँ बदलने की जरुरत नहीं,
दिशाओं को बदलो, किनारे बदल जायेंगे।


असफलताए इंसान को तोड़ देती है,
जीवन की राहों को नया मोड़ देती है,
#जो करते हैं, जी-जान से प्रयास पूरा,
असफलताएं उनका पीछा छोड़ देती है।


सोचने से कहाँ मिलते हैं तमन्नाओं के शहर,
चलना भी जरुरी है मंजिल को पाने के लिए।


मेरे जुनूँ का नतीजा ज़रूर निकलेगा,
इसी सियाह समुंदर से नूर निकलेगा।


संघर्ष में आदमी अकेला होता है,
सफलता में दुनिया उसके साथ होती है,
जब-जब जग किसी पर हँसा है,
तब-तब उसी ने इतिहास रचा है।


साहिल से तूफ़ाँ का तमाशा देखने वाले,
साहिल से अंदाज़ा-ए-तूफ़ाँ नहीं होता।


परिंदा कहता है अपने पँखो को खोलकर, अभी तो पूरी उड़ान बाकी है,
अभी तो एक मुट्ठी ज़मीन ही ली है, अभी तो पूरा आसमान बाकी है।
लहरों को शांत समझ कर ये मत सोचना के उसमे रवानी नही है,
समुद्र में जितनी गहराई है उतना ही उसके ऊपर तूफान बाकी है।


फिर तो ख़ामोशी भी सुनती है दुनिया लेकिन पहले धूम मचानी पड़ती है


जल को बर्फ़ में बदलने में वक्त लगता है,
सूरज को निकलने में वक्त लगता है,
किस्मत को तो हम बदल नही सकते,
लेकिन अपने हौसलो से किस्मत बदलने में वक्त लगता है।


हारने से पहले हिम्मत से लड़ना लेकिन लड़े बिना हार न मानना


आप अपना भविष्य नहीं बदल सकते लेकिन आप अपनी आदतें बदल सकते हैं और निश्चित तौर पर आपकी आदतें आपकी भविष्य बदल देगी


पानी को बर्फ़ में बदलने में वक्त लगता है,
सूरज को निकलने में वक्त लगता है,
किस्मत को तो हम बदल नही सकते,
अपने हौसलो से किस्मत बदलने में वक्त लगता है।


सामने हो मंजिल तो रास्ते न मोड़ना,
जो भी मन में हो वो सपना न तोड़ना
कदम कदम पे मिलेगी मुश्किल आपको, बस
सितारे चुनने के लिए जमीन मत छोड़ना।


गम की इन अंधेरी रातो में
दिल को तू न बेकरार कर,
ऐ नादान ! सुबह ज़रूर आएगी,
तू सुबह तक का तो इंतेज़ार कर।


आज़ाद हैं तोह आसमान छु ही आएंगे
ज़िंदा है तो हर जंग जीत जायेंगे

साथ हैं हम तो दुनिया को दिखा आएंगे
तिरंगे के तीन रंगों में देश को समा जायेंगे


हर रिश्ते में विश्वास रहने दो;
जुबान पर हर वक़्त मिठास रहने दो;
यही तो अंदाज़ है जिंदगी जीने का;
न खुद रहो उदास, न दूसरों को रहने दो..!


कली बेंच देगें चमन बेंच देगें,
धरा बेंच देगें गगन बेंच देगें,
कलम के पुजारी अगर सो गये तो…
ये धन के पुजारी वतन बेंच देगें।


कर्म तेरे अच्छे हे तो
किस्मत तेरी दासी है!

नियत तेरी अच्छी है तो
घर तेरा मथुरा कशी है!


वादे पूरे करने की वो हिम्मत ही न जुटा पाये
क्यों होगा कैसे होगा वो हिकमत ही न जुटा पाये

जनता ऐसे मूर्ख बनेगी इसका उनको ज्ञान नहीं था
ये अनचाहा सब गले पड़ेगा ऐसा कोई भान नहीं था

लालच दिखा कर जनता को ऐसे ठगना ठीक नहीं
मैदान छोड़ कर भाग गये ऐसा भी करना ठीक नहीं

अपनी हठ को ऊपर रख आरोप थोपना ठीक नहीं
गलत नीति को ऊपर रख कानून तोड़ना ठीक नहीं

बहुत दिखाये थे सपने अब उन सपनों का क्या होगा
आप की खातिर धंधा छोडा उन अपनों का क्या होगा


ज़िक्र भी करदूं ‘मोदी’ का तो खाता हूँ गालियां
अब आप ही बता दो मैं
इस जलती कलम से क्या लिखूं ??

कोयले की खान लिखूं
या मनमोहन बेईमान लिखूं ?

पप्पू पर जोक लिखूं
या मुल्ला मुलायम लिखूं ?

सी.बी.आई. बदनाम लिखूं
या जस्टिस गांगुली महान लिखूं ?

शीला की विदाई लिखूं
या लालू की रिहाई लिखूं

‘आप’ की रामलीला लिखूं
या कांग्रेस का प्यार लिखूं

भ्रष्टतम् सरकार लिखूँ
या प्रशासन बेकार लिखू ?

महँगाई की मार लिखूं
या गरीबो का बुरा हाल लिखू ?

भूखा इन्सान लिखूं
या बिकता ईमान लिखूं ?

आत्महत्या करता किसान लिखूँ
या शीश कटे जवान लिखूं ?

विधवा का विलाप लिखूँ ,
या अबला का चीत्कार लिखू ?

दिग्गी का’टंच माल’लिखूं
या करप्शन विकराल लिखूँ ?

अजन्मी बिटिया मारी जाती लिखू,
या सयानी बिटिया ताड़ी जाती लिखू?

दहेज हत्या, शोषण, बलात्कार लिखू
या टूटे हुए मंदिरों का हाल लिखूँ ?

गद्दारों के हाथों में तलवार लिखूं
या हो रहा भारत निर्माण लिखूँ ?

जाति और सूबों में बंटा देश लिखूं
या बीस दलो की लंगड़ी सरकार लिखूँ ?

नेताओं का महंगा आहार लिखूं
या 5 रुपये का थाल लिखूं ?

लोकतंत्र का बंटाधार लिखूं
या पी.एम्. की कुर्सी पे मोदी का नाम लिखूं ?

अब आप ही बता दो मैं
इस जलती कलम से क्या लिखूं”


तो उमीद करते हैं आपको ये best motivational shayari in hindi का पोस्ट पसंद आया होगा अगर आया तो इसे अपने दोस्तों के साथ share करना न भूलें और comment भी करें। 

ये भी पढ़ें:-  Best Shayari in Hindi